सीहोर: कुबेरेश्‍वर धाम आश्रम में हादसा, श्रद्धालुओं पर गिरा टेंट,1 की मौत, 25 घायल

कुबेरेश्वर धामसीहोर के कथावाचक पंडित प्रदीप मिश्रा के आश्रम कुबेरेश्वर धाम में बुधवार की रात हादसा हो गया। यहां तेज बारिश और हवा के बीच डाइनर का शेड ढह गया। हादसे में उमा बाई नाम की महिला की मौत हो गई। जबकि करीब 8 श्रद्धालु घायल हो गए। इनमें से दो की हालत नाजुक बनी हुई है। घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

कुबेरेश्वर धाम से पंडित प्रदीप मिश्रा ने कहा कि यह प्राकृतिक आपदा है

अचानक तेज हवा आई, जिससे टेंट गिर गया। एएसपी गीतेश गर्ग ने बताया कि गुरु पूर्णिमा पर्व के चलते बुधवार को यहां हजारों की संख्या में श्रद्धालु मौजूद रहे। यहां शिव पुराण की कथा भी चल रही है। डाइनिंग हॉल का शेड रात में गिर गया। हालांकि वहां ज्यादा लोग मौजूद नहीं थे। पुलिस और प्रशासन के अधिकारी भी मौके पर पहुंचे।

पंडित प्रदीप मिश्रा भी घायलों का हाल जानने अस्पताल पहुंचे

विधायक सुदेश राय, कलेक्टर चंद्रमोहन ठाकुर, एसपी मयंक अवस्थी समेत वरिष्ठ अधिकारी भी मौके पर पहुंचे. सभी घायलों को इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। गंभीर रूप से घायलों को भोपाल रेफर कर दिया गया है।

प्रशासन ने नहीं लिया सबक

इससे पहले भी पंडित प्रदीप मिश्रा द्वारा रुद्राक्ष बांटने की कहानी चल रही थी। उस समय भी प्रशासन ने व्यवस्था नहीं की थी। ट्रैफिक जाम था। पंडित प्रदीप मिश्रा को खुद समय से पहले कहानी खत्म करनी पड़ी। इसके बावजूद बुधवार को भी प्रशासन ने यहां भीड़ के लिए कोई इंतजाम नहीं किया।

पत्नी बच गई, लेकिन वह खुद दफन हो गया

प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक वह पंडाल में बैठकर खाना खा रहा था. उस वक्त करीब 150 लोग मौजूद थे। तभी पंडाल पीछे से गिरता हुआ नजर आया। यह देख वे पंडाल से बाहर निकलने के लिए भागने लगे। वे बाहर निकलने ही वाले थे कि पंडाल उन पर गिर गया।

इस दौरान उसने अपनी पत्नी को बाहर धक्का देकर बचाया, लेकिन पंडाल में दबकर वह खुद घायल हो गया। उसे सिर और पैर में चोट आई है। घायलों को जिला अस्पताल ले जाया गया।

यह भी पढ़े: खाने में ऊपर से नमक खाते है, तो जरूर पढ़ें खबर, आपकी आदत हो सकती जानलेवा