48 हजार का लहंगा, शादी की रात, हसरतें पूरी न हुई तो नाटक… जानें भय्यूजी महाराज को ब्लैकमेल करने वाली पलक पुराणिक कौन

 Palak Puranik-Bhaiyyuji Maharaj

कहा गया कि भय्यूजी महाराज को ब्लैकमेल किया जा रहा था। इसके बाद जनवरी 2019 में ब्लैकमेलिंग के आरोप में तीन लोगों की गिरफ्तारी हुई। इसमें एक शिष्या पलक पुराणिक (who is Palak Puranik) थी।

इंदौर में 12 जून, 2018 को संत भय्यूजी महाराज (Bhaiyyuji Maharaj) ने आश्रम में गोली मारकर खुदकुशी कर ली थी। खुदकुशी के बाद प्रदेश में हड़कंप मच गया है। छह महीने तक परिवार और आश्रम के लोगों को इस केस में किसी पर शक नहीं था। केस में आईओ बदलते ही नया मोड़ आ गया है। कहा गया कि भय्यूजी महाराज को ब्लैकमेल किया जा रहा था। इसके बाद जनवरी 2019 में ब्लैकमेलिंग के आरोप में तीन लोगों की गिरफ्तारी हुई। इसमें एक शिष्या पलक पुराणिक (who is Palak Puranik) थी।

पलक पुराणिक (Palak Puranik)  महाराज की पहली पत्नी के निधन के बाद शिष्या बनकर आई थी। महाराज से उसकी नजदीकियां बढ़ी तो वह शादी का ख्वाब देखने लगी। आइए बताते हैं पलक पुराणिक (Palak Puranik blackmailed Bhaiyyuji Maharaj) के बारे में।

महाराज की देखभाल करने आई थी पलक

dhruvvani.in-pic

भय्यूजी महाराज की पहली पत्नी माधवी की मौत के बाद पलक केयर टेकर के तौर पर भय्यूजीमहाराज से जुड़ी थी। समय गुजरने के साथ पलक की उनसे नजदीकियां बढ़ी। इसी दौरान भय्यूजी महाराज ने डॉ आयुषी से शादी कर ली।

यह पलक (Palak Puranik) और उसके सहयोगियों को पसंद नहीं आया। पलक ने भय्यूजीमहाराज को बर्बाद करने की चेतावनी देते हुए जून, 2018 के अंत तक शादी करने का अल्टीमेटम दिया था।

संपत्ति पर थी पलक की नजर

dhruvvani.in-pic

बताया जाता है कि पलक के लिए शादी तो एक बहाना था। उसकी नजर महाराज की संपत्ति पर थी। भय्यूजी महाराज के इंदौर स्थित सद्गुरु धार्मिक एवं परमार्थिक ट्रस्ट की देश के कई राज्यों में शाखाएं हैं। ट्रस्ट के पास करोड़ों की नामी-बेनामी संपत्ति है।

भय्यूजी महाराज कई तरह के बिजनेस से भी जुड़े थे। पलक को इसकी जानकारी थी। इसी चलते वह पहले भय्यूजी महाराज के करीब आई और फिर शादी के लिए दबाव बनाने लगी।

महाराज का बना लिया था अश्लील वीडियो

dhruvvani.in-pic

जनवरी, 2019 में पुलिस ने खुलासा किया था कि भय्यू महाराज को ब्लैकमेल किए जाने के साथ उन्हें नशीली दवाओं का ओवरडोज भी दिया जा रहा था। पुलिस को भय्यू महाराज और पलक के बीच सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक चैटिंग के सबूत भी मिले थे।

पुलिस ने बताया था कि चैट और अन्य निजी वस्तुओं के आधार पर पलक उन पर शादी के लिए दबाव बना रही थी। कहा जाता है कि पलक के पास महाराज के अश्लील वीडियो भी थे। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार पलक इसके एवज में उनसे डेढ़ लाख रुपये का महीना वसूलती थी।

तिजोरी की चाभी रखती थी पलक

dhruvvani.in-pic

पलक पुराणिक (Palak Puranik) की नजर संपत्ति पर थी। वह महाराज की तिजोरी की चाभी रखती थी। अप्रैल 2017 में महाराज ने डॉ आयुषी से शादी की थी। वहीं पलक उनके संपर्क में दो साल पहले आई थी। बताया जाता है कि शादी के दिन वह काफी बवाल की थी। साथ ही महाराज को ब्लैकमेल करने लगी थी।

Aadhaar Card के जरिए ली जा सकती बहुत सी जानकारियां, ये है बायोमेट्रिक अपडेट करने का तरीका

पलक आश्रम के बाहर को लोगों को महाराज की बेटी बताती थी। कहा जाता है कि पलक ने अपनी बहन की शादी में महाराज से लाखों रुपये लिए थे। महाराज ने अपनी शादी में उसे 48 हजार का लहंगा दिलवाया था।

पलक को छह साल की सजा

dhruvvani.in-pic

इंदौर कोर्ट ने ब्लैकमेलिंग मामले में पलक पुराणिक को दोषी माना है। साथ ही पलक को छह साल की सजा सुनाई है। पलक अभी जेल में बंद है। उसके वकीलों ने कहा है कि हम सुप्रीम कोर्ट का रूख करेंगे। हमारे क्लाइंट को फंसाया जा रहा है। वहीं, भय्यूजी महाराज की संपत्ति का विवाद अभी चल ही रहा है। यह तय नहीं हो पाया है कि ट्र्स्ट पर हक किसका होगा।

मेरी आस्तीन में बहुत सांप, जल्द शादी करनी होगी… डॉ आयुषी के साथ घर बसाने की जल्दबाजी दिखाई थी भय्यू महाराज ने

Source link