Breaking News

Marriage: शादी रचाने आए दूल्हे को वकील और महिला ने लूटा, ‘पुलिस’ ने पीटा,दुल्हन लापता


पन्ना के युवक के साथ जबलपुर में शादी Marriage के नाम पर ठगी। कोर्ट में शादी के लिए बुलाकर महिला और वकील ने की ठगी।नकली पुलिसवालों ने आकर दूल्हे की पिटाई की और बचे हुए पैसे ले लिए।इस दौरान शादी के लिए आई दुल्हन भी फरार हो गई, पुलिस ने गिरोह के लोगों को गिरफ्तार किया

जबलपुर
एमपी में शादी (Fraud Marriage Gang) करवाने के नाम पर लोगों से ठगी करने वाला गिरोह सक्रिय है। पन्ना के एक शख्स के साथ जबलपुर (Jabalpur Looteri Dulhan News) में शादी के नाम पर ठगी हुई है। शादी के लिए युवक ने अपनी पूरी धन-दौलत गवां दिया है।

पीड़ित जयप्रकाश तिवारी को उसके पड़ोसी रवि दुबे ने शादी (Marriage) के लिए किसी का नंबर दिया था। पीड़ित जयप्रकाश ने जब उस नंबर पर संपर्क किया तो महिला ने अपना नाम रजनी तिवारी बताया।

रजनी तिवारी ने जयप्रकाश से कहा कि वो उसकी शादी (Marriage) करवा देगी, लेकिन खर्च उसे ही करना होगा क्योंकि लड़की के मां-बाप नहीं हैं। सुंदर लड़की की फोटो देखकर जयप्रकाश दूल्हा बनने राजी हो गया।

शादी के अरमान संजोए जयप्रकाश 8 जून को जबलपुर पहुंचा, यहां गोलबाजजार के पास रजनी, अपने साथ अंजली तिवारी नाम की एक सुंदर सी लड़की के साथ मिली।

झट मंगनी पट ब्याह से बढ़कर कोर्ट मैरिज तय हुई। दूल्हे को जबलपुर जिला अदालत के सामने ले जाया गया, जहां काला कोट पहने एक कथित वकील मिला।

Motivational Story: आप भी करते हैं दूसरों की निंदा, तो जानें क्या होगा इसका परिणाम

कोर्ट मैरिज करवाने के लिए जयप्रकाश से 8 हजार रुपए लिए गए। रजनी ने कहा कि दुल्हन के लिए जेवर लेने जरूरी हैं, जयप्रकाश ने अपने पास रखे एक लाख 20 हजार रुपए भी रजनी को दे दिए। रजनी जेवर लेने रवाना हुई ही थी कि तीन लोग खुद को पुलिसवाले बताकर आ धमके।

उसके बाद जबरदस्ती शादी की बात कर दूल्हे के साथ मारपीट करने लगे और उसके पास बचे नौ हजार रुपये लूट लिए। दूल्हा बने जयप्रकाश को जब तक कुछ समझ पाता तब तक वो अकेला था। पास रखे पैसे भी खत्म हो गए और दुल्हन बनकर आई अंजलि भी गायब हो गई।

पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट ने कहा, बालिग युगल को लिव इन में रहने का अधिकार
पीड़ित जयप्रकाश ने लार्डगंज पुलिस थाने में एफआईआर दर्ज करवाई। जबलपुर की लार्डगंज पुलिस ने जब जांच शुरू की तो मुखबिर का साथ मिला। पता चला कि वारदात में आशीष तिवारी नाम का युवक शामिल है।

आरोपी ने पूछताछ में बताया कि उसे विपिन नाम के उसके दोस्त ने नकली पुलिसवाला बनकर एक पर धौंस जमाने के बदले रुपए देने का लालच दिया था। पुलिस ने जब पूछताछ शुरू की तो कलई खुलती चली गई। पुलिस ने शादी करवाने वाली रजनी तिवारी सहित 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया है जबकि दुल्हन अंजलि और उसका भाई विकास तिवारी फरार है।

Ratlam News: शादी नहीं होने से परेशान महिला एसआई ने सल्फास खाकर दी जान
पूछताछ में खुलासा हुआ कि अंजलि पहले ही शादीशुदा है, जिस विकास को उसका भाई बताया जा रहा है, वह उसका पति है। दोनों का असली नाम सुमन जैन और विवेक जैन है। वारदात के बाद बंटी-बबली बने पति-पत्नी को पुलिस तलाश रही है।

pjimage - 2021-07-13T104406.006

केंद्रीय मंत्री बनते ही ज्योतिरादित्य सिंधिया ने एमपी को दी बड़ी सौगात,आठ नई उड़ानें होंगी शुरू

Source link