Lakhimpur Kheri Violence: राहुल गांधी की PC,एयरपोर्ट पर धरना और फिर पीड़ित परिवारों से मुलाकात, देखें दिनभर क्या हुआ-Pics

Lakhimpur Kheri Violence: राहुल गांधी की प्रेस कॉन्फ्रेंस, एयरपोर्ट पर धरना और उसके बाद पीड़ित परिवारों से मुलाकात, तस्वीरों में देखें दिनभर क्या-क्या हुआ

Lakhimpur khiri

Lakhimpur Kheri Violence: लखीमपुर हिंसा को लेकर विपक्ष हमलावर है. कांग्रेस नेता राहुल गांधी और प्रियंका गांधी ने बुधवार को उन पीड़ित परिवारों से मुलाकात की, जिनके परिजन लखीमपुर खीरी हिंसा में मारे गए हैं. इससे पहले, हिरासत से छूटे जाने के बाद प्रियंका गांधी लखीमपुर खीरी के लिए निकल गईं. जबकि, दूसरी तरफ राहुल गांधी लखनऊ एयरपोर्ट पर धरना के बाद अपनी गाड़ी से ही निकल गए. हालांकि, शुरुआत में उन्हें पुलिस गाड़ी में जाने को कहा गया था.

राहुल गांधी ने ट्वीट करते हुए कहा, “शहीद लवप्रीत के परिवार से मिलकर दुख बांटा लेकिन जब तक न्याय नहीं मिलेगा, तब तक ये सत्याग्रह चलता रहेगा. तुम्हारा बलिदान भूलेंगे नहीं, लवप्रीत.”

बता दें कि राहुल गांधी और प्रियंका गांधी समेत कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं का प्रतिनिधिमंडल बुधवार रात पलिया तहसील पहुंचा और उसने रविवार को भड़की हिंसा में मारे गए चार किसानों में से एक किसान लवप्रीत सिंह के परिवार से मुलाकात की. कांग्रेस सूत्रों ने बताया कि कांग्रेस नेता किसान के चौखड़ा फार्म स्थित आवास पहुंचे, जहां उन्होंने शोक संतप्त परिवार से बात की और उनके प्रति गहरी संवेदना व्यक्त की. इस प्रतिनिधिमंडल में कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी और पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के अलावा छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी शामिल हैं. इस प्रतिनिधिमंडल में कांग्रेस नेता दीपेंद्र सिंह हुड्डा भी शामिल हैं.

राहुल गांधी और प्रियंका गांधी ने (Lakhimpur Kheri Violence) हिंसा में जान गंवाने वाले पत्रकार रमन कश्यप के परिजनों से भी मुलाकात की. रणदीप सुजेवाला ने ट्वीट करते हुए कहा, “आज स्वर्गीय पत्रकार साथी रमन कश्यप के परिवार में निगासन, लखीमपुर खीरी में राहुल गांधी और प्रियंका गांधी पहुंचे. पिता ने बताया कि रमन कश्यप को कार से रौंदा गया तथा उसकी जान बच सकती थी अगर सरकार ने घंटों तक अपराधिक लापरवाही न की होती.”

Pic

गौरतलब है कि प्रियंका गांधी को सीतापुर में पीएसी गेस्ट हाउस में सोमवार सुबह से हिरासत में रखा गया था. उन्होंने कहा था कि वह रिहा होते ही लखीमपुर के लिए रवाना हो जाएंगी. उन्हें बुधवार को हिरासत से रिहा कर दिया गया और वह राहुल और दूसरे नेताओं के साथ लखीमपुर रवाना हो गयीं. सूत्रों ने बताया कि कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल हिंसा में मारे गए एक अन्य किसान नछत्तर सिंह के परिजनों से मिलने लखीमपुर के धौरहरा भी जा सकता है.

Pic

पीड़ित परिवारों से मुलाकात की, जिनके परिजन लखीमपुर खीरी हिंसा में मारे गए हैं. इससे पहले, हिरासत से छूटे जाने के बाद प्रियंका गांधी लखीमपुर खीरी के लिए निकल गईं. जबकि, दूसरी तरफ राहुल गांधी लखनऊ एयरपोर्ट पर धरना के बाद अपनी गाड़ी से ही निकल गए. हालांकि, शुरुआत में उन्हें पुलिस गाड़ी में जाने को कहा गया था.

Lakhimpur Kheri Violence: राहुल गांधी की प्रेस कॉन्फ्रेंस

उत्तर प्रदेश सरकार ने बुधवार को कांग्रेस नेताओं राहुल गांधी, प्रियंका गांधी वाद्रा और तीन अन्य को लखीमपुर जाने की अनुमति दे दी. इससे पहले दिन में, राज्य सरकार ने राहुल गांधी को यात्रा की अनुमति देने से इनकार कर दिया था. आधिकारिक प्रवक्ता ने कहा था कि किसी को भी हिंसा प्रभावित जिले का माहौल खराब करने के लिए जाने की अनुमति नहीं दी जाएगी.

Lakhimpur Kheri Violence: राहुल गांधी की प्रेस कॉन्फ्रेंस, एयरपोर्ट पर धरना और उसके बाद पीड़ित परिवारों से मुलाकात, तस्वीरों में देखें दिनभर क्या-क्या हुआ

इससे पहले राहुल गांधी बुधवार को दिन में लखनऊ से सीतापुर स्थित पीएसी की दूसरी बटालियन पहुंचे. पार्टी नेता और उनकी बहन प्रियंका गांधी को इसी परिसर में हिरासत में रखा गया था. कांग्रेस के एक प्रवक्ता ने बताया कि राहुल गांधी लखनऊ हवाई अड्डे से अपने वाहन से लखीमपुर खीरी रवाना हुए. उत्तर प्रदेश में कांग्रेस के प्रवक्ता अशोक सिंह ने बताया, ‘‘राहुल गांधी पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी और छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के साथ लखनऊ हवाईअड्डे से लखीमपुर खीरी के लिए रवाना हुए.’’ राहुल गांधी चन्नी और बघेल के साथ दिल्ली से लखनऊ पहुंचे थे.

Lakhimpur Kheri Violence: लखीमपुर खीरी मामले में अब तक क्या कुछ हुआ, पढ़ें 10 बड़ी बातें

Lakhimpur Kheri Violence: राहुल गांधी की प्रेस कॉन्फ्रेंस, एयरपोर्ट पर धरना और उसके बाद पीड़ित परिवारों से मुलाकात, तस्वीरों में देखें दिनभर क्या-क्या हुआ

इससे पहले, उत्तर प्रदेश सरकार ने विभिन्न राजनीतिक दलों के नेताओं को लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा के मामले में पीड़ित परिवारों से मुलाकात के लिए जाने की सशर्त अनुमति दे दी थी.

Lakhimpur Kheri Violence: राहुल गांधी की प्रेस कॉन्फ्रेंस, एयरपोर्ट पर धरना और उसके बाद पीड़ित परिवारों से मुलाकात, तस्वीरों में देखें दिनभर क्या-क्या हुआ

अपर पुलिस महानिदेशक कानून व्यवस्था प्रशांत कुमार ने बुधवार को संवाददाताओं को बताया, ‘‘लखीमपुर खीरी जिला प्रशासन ने शांति व्यवस्था बनाए रखने के दृष्टिकोण से लोगों के आने-जाने पर प्रतिबंध लगाया था, मगर अब वहां पर लोगों को पांच-पांच के समूह में जाने की अनुमति दे दी गई है. जो भी व्यक्ति जाना चाहें वहां जा सकते हैं.’’

MP Bypolls News: नंदू भैया के बेटे को टिकट पर शिवराज को ऐतराज, इसलिए फंसा खंडवा से बीजेपी उम्मीदवार का ऐलान!

Lakhimpur Kheri Violence: राहुल गांधी की प्रेस कॉन्फ्रेंस, एयरपोर्ट पर धरना और उसके बाद पीड़ित परिवारों से मुलाकात, तस्वीरों में देखें दिनभर क्या-क्या हुआ
इससे पहले, उत्तर प्रदेश सरकार ने कांग्रेस नेताओं राहुल गांधी, प्रियंका गांधी और अन्य को लखीमपुर खीरी जाने की इजाजत दी. सूचना विभाग के अपर मुख्य सचिव नवनीत सहगल ने ‘पीटीआई’ को बताया कि राहुल गांधी और प्रियंका गांधी समेत कांग्रेस के पांच नेताओं को लखीमपुर खीरी जाने की अनुमति दे दी गई है.

 

Source link