लद्दाख: गलवान झड़प के बाद भारत-चीन की आज हाईलेवल बातचीत

नई दिल्ली. भारत और चीन के बीच आज को मॉल्डो में कमांडर लेवल के बीच बातचीत होनी है। 15 जून की रात को गलवान में दोनों देशों के सैनिकों की झड़प के बाद यह पहली बातचीत है। जाहिर है कि इसमें लद्दाख सीमा पर तनाव कम करने का मुद्दा अहम रहेगा.

[adsforwp id=”15966″]

गलवान में हुई झड़प में चीनी सैनिकों ने भारतीय जवानों पर कंटीले तारों से हमला किया था, जिसमें 20 जवान शहीद हो गए थे। चीन के भी 40 से ज्यादा जवान मारे गए। हालांकि, उसने अभी तक किसी सैनिक के मारे जाने की बात नहीं कही है.

भारत चीन के बीच इस महीने 3 मीटिंग हुईं
पहली
 : 6 जून
कहां हुई थी: चुशूल सेक्टर में चीन की सीमा में नियंत्रण रेखा से 20 किमी दूर स्थित मोल्दो में हुई।
किस स्तर की बातचीत थी: लेफ्टिनेंट जनरल स्तर की।
उसमें क्या चर्चा हुई: शांतिपूर्ण तरीके से विवाद सुलझाकर रिश्ते आगे बढ़ाए जाएं।

संजना सांघी ने उठाई सुशांत सिंह राजपूत के सपनों को पूरा करने की जिम्मेदारी

दूसरी : 10 जून
कहां हुई: पूर्वी लद्दाख के पास भारतीय सीमा के अंदर।
किस स्तर की बातचीत हुई: मेजर जनरल स्तर की।
क्या चर्चा हुई: सीमा विवाद कैसे सुलझाया जाए और सैनिकों की संख्या कैसे कम की जाए।

तीसरी: 12 जून
कहां हुई: लोकेशन पता नहीं चल पाई।
किस स्तर की बातचीत हुई: मेजर जनरल स्तर की।
क्या चर्चा हुई: गालवान इलाके में 3 जगहों पर विवाद कैसे सुलझाया जाए।