वारदात: बैग स्नेचिंग करने वाले दोनों लुटेरे पकड़ाए

०-ध्रुव वाणी ब्यूरों रिपोर्ट

इंदौर। लूट की वारदात की फरियादी मुस्कान पिता कैलाश कुकरेजा उम्र 19साल निवासी मकान नं. 243 स्कीम नं 103 ने दिनांक 12/9/20को रिपोर्ट किया कि अपनी स्कूटी क्रमांक MP09UL8839 से अपनी माँ रेणु कुकरेजा एवं सहेली पल्लवी नंदवानी के साथ आज शाम करीब साढे पांच बजे शाँपिग करके जूनि इन्दौर तरफ से वापस आ रही थी

तभी अरबन हाट के सामने पीछे से आ रही बिना नम्बर की सिल्वर रंग की एक्सेस गाडी में सवार दो युवक मेरे कंधे में टगे हैंड बैण्ड को लूटने की नीयत से मेरी गाडी में जान बूझकर टक्कर मारकर हमे रोड किनारे गिरा दिया तथा मुझसे हैण्ड छीनकर भाग गये । हम तीनो गिर गये । हम तीनो को चोट आई कुछ लोगो ने बदमाशो का पीछा किया ।

जो वह बदमाश अपनी एक्सेस स्कूटी घूंघट गार्डन के पास छोडकर भाग गये । मेरी माँ रेणु को सिर में मुझे दोनो हाथ मुंह माथे में व होट में चोट आई एवं मेरी सहेली को भी चोट आई थी जो आसपास के लोगो के मदद से हमें युनिक अस्पताल पहुंचाया । जहाँ हमारा ईलाज हुआ । मेरी माँ जिनका ईलाज चल रहा है ।

मेरे लूटे गये काले रंग के हैण्ड बैग में मेरा आधार कार्ड , एक स्टैट बैंक का डेबिट कार्ड करीब चार हजार करीब कैश एवं एप्पल कम्पनी का आईफोन 7 मोबाईल है कुल समान कीमती लगभग 50 हजार । मै युनिक अस्पताल में ईलाज करवाकर रिपोर्ट करने आई हूँ।

रिपोर्ट पर अपराध क्रमांक 337 / 20 धारा 394 34भादवि अज्ञात आरोपियों के विरुद्ध कायम का आरोपी गणों की तलाश में टीमें लगाई गई आरोपी गणों द्वारा छोड़ी गई स्कूटी के आधार पर आरोपियों की पहचान की गई जो आरोपियों के नाम यासिर पिता जाकिर उम्र उम्र 19 वर्ष निवासी माणिकबाग बुक ब्रांड कॉलोनी

विजय पैलेस के पास 57/ 58 सकीना अपार्टमेंट फ्लैट नंबर 202 थाना जुनी इंदौर तथा आदिल पिता शकील शेख उम्र 22 साल निवासी मथुरा कॉलोनी मदीना मस्जिद के पीछे आजाद नगर इंदौर को गिरफ्तार कर

करते हैं UPI PIN का इस्तेमाल, तो इन बातों का रखें ध्यान, हो सकता है फ्रॉड

इनसे घटना में लूटा हुआ मोबाइल एटीएम कार्ड हैंड बैग आदि जप्त कर लिया गया है आरोपी नशा करने के आदी हैं आरोपी गणों से और पूछताछ की जा रही है तथा विभिन्न थानों को सूचना दी गई है उनकी भी टीमें आरोपियों से पूछताछ कर रही है संपूर्ण कार्यवाही में उप निरीक्षक अंकित शर्मा उपनिरीक्षक प्रेम सिंह प्रधान आरक्षक मंगल सिंह आरक्षक सुनील आरक्षक उपेंद्र आरक्षक दिनेश सैनिक अर्जुन चालक पवन की महत्वपूर्ण भूमिका रही।

मध्यप्रदेश: फीस नहीं देने पर विद्यार्थी का स्कूल से नाम नहीं कांट सकेंगे Private स्कूल