EPFO ने निवेश ऑप्शन के रूप में InvIT को दी मंजूरी, पीएफ पर मिलेगा ज्यादा ब्याज!

EPFO

रिटायरमेंट फंड बॉडी ईपीएफओ (EPFO) ने शनिवार को कहा कि उसने इनविट (InvITs) जैसे नए एसेट क्लास में निवेश पर फैसला लेने के लिए अपने एडवाइजरी बॉडी फाइनेंस इन्वेस्टमेंट एंड ऑडिट कमिटी यानी एफआईएसी (FIAC) को सक्षम बनाया है.

इस समय एनएचएआई (NHAI) और पीजीसीआईएल (PGCIL) ने पब्लिक सेक्टर के इंफ्रास्ट्रक्चर इंवेस्टमेंट (InvITs) की पेशकश की है. ईपीएफओ पब्लिक सेक्टर के बॉन्ड में भी निवेश करेगा. केंद्रीय श्रम मंत्री भूपेंद्र यादव की अध्यक्षता में ईपीएफओ की निर्णय लेने वाली शीर्ष संस्था- सेंट्रल बोर्ड ऑफ ट्रस्टीज (CBT) की 229वीं बैठक में यह फैसला लिया गया.

नई दिल्ली. रिटायरमेंट फंड बॉडी ईपीएफओ (EPFO) ने शनिवार को कहा कि उसने इनविट (InvIT) जैसे नए एसेट क्लास में निवेश पर फैसला लेने के लिए अपने एडवाइजरी बॉडी फाइनेंस इन्वेस्टमेंट एंड ऑडिट कमिटी यानी एफआईएसी (FIAC) को सक्षम बनाया है.

इस समय भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (NHAI) और पावर ग्रिड कॉरपोरेशन (PGCIL) ने पब्लिक सेक्टर के इंफ्रास्ट्रक्चर इंवेस्टमेंट (InvITs) की पेशकश की है. ईपीएफओ पब्लिक सेक्टर के बॉन्ड में भी निवेश करेगा. केंद्रीय श्रम मंत्री भूपेंद्र यादव की अध्यक्षता में ईपीएफओ की निर्णय लेने वाली शीर्ष संस्था- सेंट्रल बोर्ड ऑफ ट्रस्टीज (CBT) की 229वीं बैठक में यह फैसला लिया गया.

नए सरकारी इंस्ट्रूमेंट में निवेश करने का फैसला
यह पूछने पर कि क्या ईपीएफओ निजी क्षेत्र के इनविट में निवेश करेगा, बैठक के बाद यादव ने कहा, ”इस समय हमने सिर्फ नए सरकारी इंस्ट्रूमेंट (बॉन्ड और इनविट) में निवेश करने का फैसला किया है. इसके लिए कोई प्रतिशत नहीं है. यह एफआईएसी द्वारा केस टू केस बेसिस पर तय किया जाएगा.

एक आधिकारिक बयान में कहा गया कि बोर्ड ने एफआईएसी को केस टू केस बेसिस पर निवेश विकल्पों पर निर्णय लेने के लिए सशक्त बनाने का निर्णय लिया.

कोलेस्ट्रॉल घटाने के लिए बेस्ट घरेलू नुस्खा है लहसुन, जानें इसके फायदे और उपयोग का तरीका

इस फैसले के बारे में समझाते हुए श्रम सचिव सुनील बर्थवाल ने कहा, ”अगर हम उच्च ब्याज दर देना चाहते हैं, तो हमें वित्त मंत्रालय के दिशानिर्देशों का पालन करना होगा. कुछ इंस्ट्रूमेंट हैं, जहां हम विभिन्न कारणों से निवेश करने में सक्षम नहीं थे. अब हम उन इंस्ट्रूमेंट में निवेश कर सकेंगे.”

राजस्थान की गहलोत सरकार मंत्रिमंडल में पायलट खेमे के 5 विधायकों समेत 15 मंत्री लेंगे शपथ

Source link