कांग्रेस के कमलनाथ पर चुनाव आयोग ने चलाया हंटर, स्टार प्रचारकों की लिस्ट से नाम हटाया

भोपाल। मध्यप्रदेश की 28 सीटों पर होने वाले विधानसभा उपचुनाव ( Madhya Pradesh By Election 2020 ) में आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन पर राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कमलनाथ (Kamal Nath) पर चुनाव आयोग (Election Commission) ने कार्रवाई की है।

चुनाव आयोग ने कमलनाथ का नाम स्टार प्रचारकों (Revoked The Star Campaigner Status Of Kamal Nath) से हटा दिया है। चुनाव आयोग ने कमलनाथ पर यह कार्रवाई आदर्श आचार संहिता का बार-बार उल्लंघन करने पर की है।

चुनाव आयोग के कमलनाथ पर लिए गए फैसले के खिलाफ कांग्रेस ने कोर्ट जाने की बात कही है। मध्य प्रदेश कांग्रेस इकाई के लिए मीडिया समन्वयक नरेंद्र सलूजा ने कहा कि पार्टी ने चुनाव आयोग के खिलाफ कमलनाथ को स्टार प्रचारक का दर्जा रद्द किए जाने के खिलाफ अदालत का रुख किया है।

चुनाव आयोग की सलाह का कमलनाथ ने किया बार बार उल्लंघन

शुक्रवार को चुनाव आयोग ने जारी अपने आदेश में कहा कि कमलनाथ के खिलाफ आचार संहिता के उल्लंघन की शिकायतें लगातार आ रही थीं। जिसे लेकर चुनाव आयोग ने कमलनाथ को बार-बार चेतावनी दी।

इसके बावजूद कमलनाथ ने चुनाव आयोग की सलाह की पूरी तरह से अवहेलना करते हुए आदर्श आचार संहिता का बार-बार उल्लंघन किया। जिस पर चुनाव आयोग ने सख्त एक्शन लेते हुए आदर्श आचार संहिता के अनुच्छेद एक और दो के तहत कमलनाथ के खिलाफ कार्रवाई की है।

बता दें, बीजेपी नेता इमरती देवी को ‘आइटम’ बोलने के बाद कमलनाथ ने एक अन्य सभा में शिवराज सिंह को ‘नौटंकी कलाकार’ भी कहा था।

मध्य प्रदेश उपचुनाव में प्रचार कर सकेंगे कमलनाथ

चुनाव आयोग ने कहा कि अब कमलनाथ को स्टार प्रचारक के रूप में अधिकारियों द्वारा कोई अनुमति नहीं दी जाएगी। हालांकि, कमलनाथ मध्य प्रदेश उपचुनाव में प्रचार कर सकेंगे, लेकिन इसका खर्चा पार्टी नहीं, प्रत्याशी को देना होगा।

कमलनाथ को चुनाव आयोग ने दी थी हिदायत

बता दें, चुनाव आयोग ने इससे पहले आइटम वाले बयान पर कमलनाथ से जवाब मांगा था। जिसके जवाब में कमलनाथ ने कहा था कि उनके बयान का गलत मतलब निकाला गया। तब इमरती देवी के खिलाफ ‘आइटम’ शब्द का इस्तेमाल करने पर चुनाव आयोग ने कमलनाथ को नसीहत भी दी थी।

कौन हैं आरिफ मसूद फ्रांस के राष्ट्रपति के खिलाफ भोपाल में प्रदर्शन करने वाले विधायक?

Source link