गर्भवती हथिनी की हत्या के मामले में एक आरोपी गिरफ्तार, घटना में कई लोग शामिल

तिरुवनंतपुरम. केरल के मलप्पुरम में गर्भवती हथिनी को फल में पटाखे खिलाकर हत्या के मामले में एक आरोपी को गिरफ्तार किया गया है। राज्य के वन मंत्री के राजू ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि इस मामले में कुछ और लोग शामिल थे। कुछ संदिग्धों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। जल्द ही सबकी गिरफ्तारी होगी। एक दिन पहले ही केरल के दो गैर सरकारी संगठनों ने हत्यारों की जानकारी देने पर डेढ़ लाख रुपए का इनाम देने की घोषणा की थी।

केंद्रीय वन मंत्री जावड़ेकर ने कहा था- दोषियों को सजा मिलेगी

पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने एक दिन पहले ही ट्वीट किया था, ‘‘केंद्र सरकार ने केरल के मलप्पुरम में हथिनी की हत्या के मामले को बहुत गंभीरता से लिया है। हम सही तरीके से जांच करने और अपराधी को पकड़ने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ेंगे। पटाखे खिलाना और मारना भारतीय संस्कृति नहीं है।’’ मंत्री ने हथिनी की मौत पर रिपोर्ट भी मांगी थी और कहा था कि दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

दो निजी संगठनों ने आरोपियों का पता देने पर इनाम रखा
हथिनी के हत्यारों का पता देने पर दो निजी संगठनों ने डेढ़ लाख रुपए का इनाम रखा है। वाइल्ड लाइफ एसओएस एनजीओ ने अपराधियों का पता लगाने वाले को 1 लाख रुपए देने की घोषणा की है। यह सूचना मोबाइल नंबर 9971699727 या ईमेल info@wildlifesos.org पर दी जा सकती है। वहीं, ह्यूमन सोसायटी इंटरनेशनल संस्था ने आरोपियों की जानकारी देने पर 50 हजार रुपए का इनाम रखा है। यह जानकारी वॉट्सऐप नंबर 7674922044 पर दी जा सकती है।

गर्भवती हथिनी की नृशंस हत्या से एक महीने पहले एक और हथिनी के साथ हुई थी क्रूरता

यह है मामला 
केरल के मलप्पुरम में एक गर्भवती हथिनी की पानी में खड़े-खड़े मौत हो गई थी। केरल के एक अधिकारी ने इस घटना की जानकारी सोशल मीडिया पर पोस्ट की, तब यह मामला सामने आया। भूखी गर्भवती हथिनी खाने की तलाश में जंगल से भटक कर रिहायशी इलाके में पहुंच गई थी। हथिनी सड़क पर टहल रही थी, तभी किसी ने उसे पटाखे से भरा अनन्नास खिला दिया था, जिससे उसका मुंह फट गया था।