भोपाल में 10 दिन का टोटल लॉकडाउन: 24 जुलाई की रात से होगा लागू, पढें गाइडलाइन

 

  • बुधवार को कोरोना के 196 नए केस मिले, ये एक दिन में सबसे ज्यादा मरीज मिलने का रिकॉर्ड.
  • राजधानी में संक्रमितों का आंकड़ा बढ़कर 4834 हुआ, 31 इलाकों में गुरुवार सुबह से 2.5 लाख की आबादी घरों में रहेगी.

[adsforwp id=”15966″]

भोपाल में एक दिन में रिकॉर्ड 196 कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद 10 दिन के लिए लॉकडाउन लगाने का फैसला लिया गया है। यह टोटल लॉकडाउन होगा, जो 24 जुलाई की रात 8 बजे से शुरू होगा और 4 अगस्त की सुबह तक लागू रहेगा। यानी बकरीद और रक्षाबंधन पर भी लॉकडाउन ही रहेगा।

भोपाल में 10 दिन के लॉकडाउन के दौरान मेडिकल स्टोर खुले रहेंगे। दूध-सब्जी की सप्लाई हो सकेगी। इंडस्ट्रीज और सरकारी राशन की दुकानें खुली रहेंगी। बाकी टोटल लॉकडाउन रहेगा।

किराने की दुकानें, सैलून और होटल-रेस्टोरेंट सब बंद रहेगा। भोपाल में अन्य जिलों से आवाजाही भी बैन रहेगी। पहले के लॉकडाउन की तरह ई-पास होने पर ही शहर से बाहर आना-जाना कर सकेंगे।

[adsforwp id=”15966″]

गृह मंत्री बोले- 2 दिन में जरूरी सामान का इंतजाम कर लें

गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि भोपाल के सभी लोगों से प्रार्थना है कि 23 और 24 जुलाई को दो दिनों में वे जरूरी सामान का इंतजाम कर लें। सरकारी राशन की दुकानों को भी कहा गया है कि दो दिन के अंदर जुलाई का पूरा राशन सभी गरीबों के घर में पहुंच जाए।

जहां पर नहीं बंटा है, वहां पर बांट दिया जाए और राशन हर गरीब के घर पहुंच जाए। सरकारी दफ्तर खुलेंगे और वहां पर सिर्फ अधिकारी और उनका स्टाफ रहेगा। बाकी कोई नहीं जाएगा।

31 इलाकों में गुरुवार सुबह से लॉकडाउन

अवधपुरी की छह कालोनियों में 23 जुलाई को सुबह 8 बजे से ही लॉकडाउन शुरू हो जाएगा। इन 6 कालोनियों को मिलाकर अब तक राजधानी में 31 इलाके पूरी तरह से लॉक कर दिए गए हैं।

[adsforwp id=”15966″]

यहां करीब 2.5 लाख की आबादी गुरुवार सुबह से घरों में रहेगी। सभी इलाकों में केवल इमरजेंसी सेवाएं ही जारी रहेंगी। इसके बाद शुक्रवार रात से पूरे शहर में लॉकडाउन रहेगा।

यह भी पढें: LAC सीमा पर हरकतों से बाज़ नही आ रहा चीन, लद्दाख सीमा पर 40,000 सैनिक किए तैनात